तीसरे चरण की वोटिंग के बाद जेटली ने किया दावा Reviewed by Momizat on . पटना. तीसरे चरण के चुनाव के बाद भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि एनडीए पूर्ण बहुमत से सरकार बनाने जा रही है। गुरुवार को बीजेपी ऑफिस में प्र पटना. तीसरे चरण के चुनाव के बाद भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि एनडीए पूर्ण बहुमत से सरकार बनाने जा रही है। गुरुवार को बीजेपी ऑफिस में प्र Rating: 0
You Are Here: Home » News » Bihar News » तीसरे चरण की वोटिंग के बाद जेटली ने किया दावा

तीसरे चरण की वोटिंग के बाद जेटली ने किया दावा

तीसरे चरण की वोटिंग के बाद जेटली ने किया दावा

पटना. तीसरे चरण के चुनाव के बाद भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि एनडीए पूर्ण बहुमत से सरकार बनाने जा रही है। गुरुवार को बीजेपी ऑफिस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जेटली ने कहा कि पहले और दूसरे चरण में हम आगे रहे हैं और तीसरे चरण में भी एनडीए को एक तरफा बढ़त मिली है। हमें उम्मीद है कि चौथे और पांचवे चरण में भी एनडीए को एकतरफा जीत मिलेगी।

अरुण जेटली ने कहा कि तीन मुख्य कारणों से बिहार में एनडीए को जीत मिलने वाली है। पहला है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता। पीएम की चुनावी सभा में जिस तरह से लोगों की भीड़ जुट रही है इससे पता चलता है कि जनता में मोदी के प्रति विश्वास कायम है। लोग उत्साह से उन्हें सुनने आ रहे हैं।

दूसरा कारण यह है कि बिहार के लोग अब केंद्र और राज्य में एक ही पार्टी की सरकार बनाना चाहते हैं। दोनों जगह एक ही पार्टी की सरकार होगी तो राज्य का फायदा होगा। अभी तक जिस पार्टी की सरकार दिल्ली में रही है, उसके विपक्ष की सरकार बिहार में रही है। ऐसा होने पर बिहार को नुकसान हुआ है। केंद्र सरकार द्वारा दिए गए 1.65 लाख करोड़ रुपए के पैकेज से भी बिहार के लोगों को उम्मीद है। लोगों को लग रहा है कि अगर भाजपा की सरकार बनती है तो इस पैकेज से बिहार का विकास होगा।

तीसरा कारण यह है कि महा गठबंधन हताश लोगों का जमावड़ा है। इसमें एक मात्र नेशनल पार्टी कांग्रेस है। कांग्रेस बिहार में अस्तित्व बचाने के लिए संघर्ष कर रही है। दूसरी पार्टी है राजद जो एक पारिवारिक समूह है। जहां एक पीढ़ी चुनाव नहीं लड़ सकती। किसी तरह से दूसरी पीढ़ी खड़ी हो जाए इसके लिए वह कोई भी कीमत चुकाने को तैयार है। तीसरी पार्टी है जदयू। जदयू के अवसरवादी राजनीति के लिए यह आखरी दांव है। उनका राजनीतिक इतिहास ही ऐसा है। बीजेपी के साथ गठबंधन किया और अपने स्वार्थ के चलते अलग हो गए। उन्हें उम्मीद नहीं थी कि सजा के बावजूद लालू को जमानत मिल जाएगी और वह अपने वोट बैंक को एकजूट करने में कामयाब हो जाएंगे। जदयू को यह भी उम्मीद नहीं थी कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बीजेपी केंद्र में सरकार बना लेगी। मोदी के नेतृत्व में जिस तरह से बीजेपी आगे बढ़ रही है उसका अनुमान जदयू को नहीं था। राजद को साथ लेकर जदयू ने विकास के एजेंडा को भी छोड़ दिया है। इससे बहुत बड़े वर्ग में उनकी गुडविल खोई है।
जेटली ने कहा कि नौजवान इस चुनाव में पूरे जोश से इस चुनाव में भाग ले रहे हैं वह जातिवादी राजनीतिक को किनारे कर विकास की बात कर रहे हैं। इससे पता चलता है कि बीजेपी इस चुनाव में एक बड़े बहुमत से जीत रही है।

About The Author

Number of Entries : 3374

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.