लोकपर्व छठ के लिए 5 लाख लोग पहुंचे बिहार, हुआ 280 करोड़ का कारोबार… Reviewed by Momizat on . पटना. बिहार का लोकपर्व छठ रविवार से शुरू हो गया। इसमें शामिल होने के लिए देश के अलग-अलग इलाकों से करीब पांच लाख लोग बिहार पहुंच चुके हैं। इसके अलावा देशभर में ज पटना. बिहार का लोकपर्व छठ रविवार से शुरू हो गया। इसमें शामिल होने के लिए देश के अलग-अलग इलाकों से करीब पांच लाख लोग बिहार पहुंच चुके हैं। इसके अलावा देशभर में ज Rating: 0
You Are Here: Home » News » Bihar News » लोकपर्व छठ के लिए 5 लाख लोग पहुंचे बिहार, हुआ 280 करोड़ का कारोबार…

लोकपर्व छठ के लिए 5 लाख लोग पहुंचे बिहार, हुआ 280 करोड़ का कारोबार…

लोकपर्व छठ के लिए 5 लाख लोग पहुंचे बिहार, हुआ 280 करोड़ का कारोबार…

पटना. बिहार का लोकपर्व छठ रविवार से शुरू हो गया। इसमें शामिल होने के लिए देश के अलग-अलग इलाकों से करीब पांच लाख लोग बिहार पहुंच चुके हैं। इसके अलावा देशभर में जहां भी बिहार के लाेग हैं वहां छठ मनाया जा रहा है। इस साल छठ पूजा के लिए सामानों की खरीद-बिक्री 280 करोड़ रुपए से ज्यादा होने का अनुमान है।
सवा सौ करोड़ की फल-सब्जियां बिकती हैं

बिहार में करीब 80 लाख घरों में छठ पूजा होती है। एक पूजा पर 3500 से चार हजार रु. खर्च होते हैं। यानी 280 करोड़ रु. का कारोबार। 120 करोड़ फल-सब्जियों, 80 करोड़ प्रसाद के समान पर, 40-40 करोड़ दूघ-घी और कपड़े पर।
क्या है छठ पर्व?
छठ में भगवान सूर्य को अर्घ्य देने की परंपरा है। इसमें न कोई पुरोहित होता है और न यजमान। इसीलिए इसे लोक आस्था का पर्व कहा जाता है। चार दिन तक चलने वाले इस पर्व की शुरुअात नहाय खाय से होती है। अगले दिन खरना होता है। इसका प्रसाद खाने के बाद व्रती दो दिन तक पानी भी नहीं पीते हैं। इस दौरान पहले डूबते, फिर उगते सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है।
सबसे ज्यादा कहां होती है श्रद्धालुओं की भीड़?
बिहार में सबसे ज्यादा श्रद्धालु पटना में गंगा किनारे जुटते हैं। हाल के वर्षों में भीड़ बढ़ने के कारण लोगों ने घरों की छत या मुहल्ले में बनाए गए अस्थायी तालाबों से ही अर्घ्य देना शुरू कर दिया है। बिहार में देव, औंगारी, बड़गांव और उलार में सूर्य मंदिर हैं। यहां भी भारी भीड़ जुटती है। छठ अब सिर्फ बिहार का न होकर पूरे देश और दुनिया का पर्व बन चुका है।
क्या हैं सुरक्षा के इंतजाम?
तीन साल पहले पटना के गंगा के घाट पर भगदड़ में 22 लोगों की मौत हो गई थी। तब से सुरक्षा इंतजाम बढ़ा दिए गए हैं। इस बार भी सिर्फ पटना में 10 हजार जवान और एक हजार अधिकारियों को तैनात किया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पिछले दिन गंगा घाटों का दौरा भी किया था।

260 ट्रेनें, फिर भी ढाई सौ की वेटिंग
देशभर से रोज 238 ट्रेनें बिहार जाती हैं। इसके बावजूद छठ के लिए रेलवे ने 22 स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। फिर भी ट्रेनों में ढाई सौ से ज्यादा की वेटिंग चल रही है। रोज 20 फ्लाइट पटना जाती हैं। इन दिनों टिकट की मांग इतनी बढ़ चुकी है कि दिल्ली से पटना का किराया चार गुना बढ़कर 19 हजार तक हो चुका है।
विदेशों में भी मनाई जाती है छठ
बिहार के बहुत से लोग अमेरिका, इंग्लैंड, मॉरिशस और थाईलैंड में भी रहते हैं। वहां भी छठ पूजा की जाती है। उधर, दिल्ली में यमुना के किनारे और मुंबई में समुद्री तट पर छठ का जोरदार आयोजन हाेता है। इसके अलावा देश के तकरीबन सभी प्रमुख शहरों में छठ पर्व का आयोजन किया जाता है।

About The Author

Number of Entries : 3374

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.