प्रधानमंत्री ने लॉन्च की गोल्ड बांड सहित 3 स्कीम… Reviewed by Momizat on . नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम समेत तीन स्कीम लॉन्च की। सरकार इस पर ब्याज के तौर पर अच्छे रिटर्न की पेशकश कर रही है। नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम समेत तीन स्कीम लॉन्च की। सरकार इस पर ब्याज के तौर पर अच्छे रिटर्न की पेशकश कर रही है। Rating: 0
You Are Here: Home » News » National News » प्रधानमंत्री ने लॉन्च की गोल्ड बांड सहित 3 स्कीम…

प्रधानमंत्री ने लॉन्च की गोल्ड बांड सहित 3 स्कीम…

प्रधानमंत्री ने लॉन्च की गोल्ड बांड सहित 3 स्कीम…

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम समेत तीन स्कीम लॉन्च की। सरकार इस पर ब्याज के तौर पर अच्छे रिटर्न की पेशकश कर रही है। मोदी सरकार ने करीब एक साल की तैयारी के बाद ये स्कीम लॉन्च की है।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारतीय घरों में सोना सिक्युरिटी की तरह पड़ा है, जो लगभग 20,000 टन के बराबर है। लेकिन यह सोना ही है,जिसकी वजह से भारत पर गरीब देश का ठप्पा लगा हुआ है। मोदी ने कहा कि भारत में सोने का नॉन मोनेटाइजेशन ही गरीबी के कारणों में शामिल है। इस मौके पर मोदी ने भारत का पहला सोने का सिक्का लॉन्च किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम, गोल्ड सॉवरेन बांड स्कीम के साथ, दिवाली के मौके पर अशोक चक्र चिह्न वाला भारत में बना गोल्ड क्वॉइन भी लॉन्च कर दिया। गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम में कोई भी व्यक्ति अपनी ज्वैलरी, गोल्ड क्वॉइन, बॉर को डिपॉजिट कर इंटरेस्ट ले सकेगा।

सोने की तरह सरकार गोल्ड बांड को बेचेगी। जो कि पोस्ट ऑफिस और बैकों पर मिलेंगे। यह बांड सोने के सिक्के की तरह 2 ग्राम से लेकर 500 ग्राम के रूप में मिलेंगे। आरबीआई ने इस बार सॉवरेन गोल्ड बांड के लिए इश्यू प्राइस 2,684 रुपए प्रति ग्राम तय किया है। इस पर 2.75 फीसदी सालाना इंटरेस्ट मिलेगा। बांड 26 नवंबर से जारी करने की शुरुआत हो जाएगी। बांड के लिए आवेदन 5 नवंबर से 20 नवंबर 2015 के बीच स्वीकार किए जाएंगे। बांड की अवधि 8 साल के लिए होगी, जिसमें 5 साल में निकलने का विकल्प मिलेगा। हालांकि इस पर मिलने वाले ब्याज पर आपको टैक्स देना होगा। गोल्ड बांड भारतीय नागरिक, एचयूएफ (हिंदू संयुक्त परिवार), ट्रस्ट, विश्वविद्यालय और चैरिटेबल इंस्टीट्यूट्स खरीद सकेंगे।

पहली बार भारत सरकार ने अशोक चक्र के चिह्न के साथ सोने का सिक्का लॉन्च किया है। ऐसा पहली बार होगा कि यह सिक्का भारत में बना होगा। अभी बैंक सिर्फ स्विस एस्से सर्टिफाइड सिक्के ही बेचते थे। सिक्के के दूसरी तरफ महात्मा गांधी की तस्वीर बनी होगी। यह सिक्का 5 ग्राम, 10 ग्राम और 20 ग्राम के साइज में उपलब्ध होगा। शुरू में इसे एमएमटीसी द्वारा बेचा जाएगा। बाद में इसे बैंक और पोस्ट ऑफिस भी बेच सकेंगे।

वित्त मंत्रालय के अनुसार इस समय देश में मंदिरों, घरों, ट्रस्ट में करीब 20 हजार से लेकर 25 हजार टन सोना पड़ा है। स्कीम के जरिए सरकार इस सोने को रि-यूज करना चाहती है। जिससे उसका इम्पोर्ट बिल कम हो सके। इस समय सालाना 800-900 लाख टन सोने का इम्पोर्ट किया जाता है।

About The Author

Number of Entries : 3374

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.