नक्सलियों ने मुखबिरी के शक में छीने गांववालों के मोबाइल Reviewed by Momizat on . रांची. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो अक्टूबर को झारखंड के खूंटी जिले के दौरे पर जाएंगे। मोदी यहां सोलर सिस्टम के उद्धाटन के साथ ही एक रैली को भी संबोधित करेंगे। रांची. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो अक्टूबर को झारखंड के खूंटी जिले के दौरे पर जाएंगे। मोदी यहां सोलर सिस्टम के उद्धाटन के साथ ही एक रैली को भी संबोधित करेंगे। Rating: 0
You Are Here: Home » News » Jharkhand News » नक्सलियों ने मुखबिरी के शक में छीने गांववालों के मोबाइल

नक्सलियों ने मुखबिरी के शक में छीने गांववालों के मोबाइल

नक्सलियों ने मुखबिरी के शक में छीने गांववालों के मोबाइल

रांची. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो अक्टूबर को झारखंड के खूंटी जिले के दौरे पर जाएंगे। मोदी यहां सोलर सिस्टम के उद्धाटन के साथ ही एक रैली को भी संबोधित करेंगे। पीएम के इस दौरे को लेकर पुलिस सतर्क है और नक्सलियों की हर हरकत पर नजर रख रही है। दूसरी ओर, नक्सली गांववालों के मोबाइल फोन छीन रहे हैं ताकि कोई उनके मूवमेंट की जानकारी पुलिस और दूसरे सिक्युरिटी फोर्स तक न पहुंचा पाए।

पुलिस को नक्सलियों द्वारा गांववालों के मोबाइल फोन छीनने की जानकारी है, हालांकि इस पर अब तक कोई बड़ा एक्शन नहीं लिया गया है। कुछ छापेमारी की गई है और इसमें केवल 50-60 फोन जब्त किए गए हैं। खबरों के मुताबिक, नक्सली गांव में खबर भेज देते हैं कि वे रात में गांव आएंगे और गांववाले अपने मोबाइल फोन चार्जर समेत उन्हें सौंप दें। नक्सली घरों की तलाशी भी ले रहे हैं ताकि कोई अपना फोन छुपा कर न रख सके। गांववालों को धमकी दी जा रही है कि अगर उनके बारे में कोई भी सूचना सिक्युरिटी फोर्सेज तक पहुंची तो जान से हाथ धोना पड़ेगा।

दरअसल, खूंटी जिले में नक्सलियों के खिलाफ पुलिस ने एक ऑपरेशन चला रखा है। पुलिस को इसमें कामयाबी भी मिली है। हर गांव में पुलिस के मुखबिर नक्सली मूवमेंट की जानकारी पुलिस तक पहुंचा रहे हैं। इसी से परेशान नक्सली अब गांववालों के मोबाइल फोन ही छीनने लगे हैं। पुलिस को शक है कि पीएम के दौरे के दौरान या पहले नक्सली किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं, इसलिए पुलिस भी कोई जोखिम नहीं उठाना चाहती। नक्सली 21 से 27 सितंबर तक अपना स्थापना सप्ताह मना रहे हैं।

नक्सलियों द्वारा गांववालों के मोबाइल फोन छीन जाने पर झारखंड पुलिस के एडीजी एस.एन. प्रधान ने बताया, “जिन गांवों में ग्रामीणों के मोबाइल नक्सली संगठन के लोग छीन रहे हैं, वहां छापामारी शुरू कर दी गई है। नक्सलियों को लग रहा है कि वे पुलिस का सूचना तंत्र कमजोर कर देंगे। उन्हें लगता है कि ग्रामीण पुलिस को सूचना देते हैं। प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर पुलिस सतर्क है।”

About The Author

Number of Entries : 3374

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.