डेस्पेरेट, फ्रस्ट्रेटेड हैं पुरस्कार लौटाने वाले लेखक Reviewed by Momizat on . रांची। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने कहा है कि पुरस्कार लौटाने वाले साहित्यकार, इतिहासकार, फिल्मकार और साइंटिस्ट डेस्प रांची। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने कहा है कि पुरस्कार लौटाने वाले साहित्यकार, इतिहासकार, फिल्मकार और साइंटिस्ट डेस्प Rating: 0
You Are Here: Home » News » Jharkhand News » डेस्पेरेट, फ्रस्ट्रेटेड हैं पुरस्कार लौटाने वाले लेखक

डेस्पेरेट, फ्रस्ट्रेटेड हैं पुरस्कार लौटाने वाले लेखक

डेस्पेरेट, फ्रस्ट्रेटेड हैं पुरस्कार लौटाने वाले लेखक

रांची। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने कहा है कि पुरस्कार लौटाने वाले साहित्यकार, इतिहासकार, फिल्मकार और साइंटिस्ट डेस्पेरेट और फ्रस्ट्रेटेड लोगों के गैंग का हिस्सा हैं।

शुक्रवार को यहां आरएसएस की ऑल इंडिया एग्जीक्यूटिव मीट में होसबोले ने कहा कि पुरस्कार लौटाने वाले समाज की अनदेखी के शिकार तथाकथित बुद्धिजीवियों के गिरोह के सदस्य हैं, जिनके विचार सुनने लोगों ने बंद कर दिए हैं। इसलिए अब ये सिर्फ राजनीति कर रहे हैं। इनमें से कोई भी भरोसे के काबिल नहीं है। वैज्ञानिक एम भार्गव के पद्मभूषण लौटाने पर दत्तात्रेय ने कहा, ”वैज्ञानिकों को राजनीति से क्या काम? वे वैज्ञानिक चर्चा में भाग क्यों नहीं लेते? दरअसल, ये सभी देश में यह माहौल बनाने की साजिश कर रहे हैं कि केंद्र में भाजपा सरकार बनने के बाद धार्मिक असहिष्णुता बढ़ गई है। जबकि यह सच नहीं है।”

About The Author

Number of Entries : 3374

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.