खतरे में रैना, रोहित-पुजारा का टेस्ट करियर! Reviewed by Momizat on . सिडनी. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज 2-0 से गंवाने वाली भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली, मुरली विजय और रहाणे के अलावा टॉप ऑर्डर के बाकी बल्लेबा सिडनी. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज 2-0 से गंवाने वाली भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली, मुरली विजय और रहाणे के अलावा टॉप ऑर्डर के बाकी बल्लेबा Rating: 0
You Are Here: Home » Sports » Cricket » खतरे में रैना, रोहित-पुजारा का टेस्ट करियर!

खतरे में रैना, रोहित-पुजारा का टेस्ट करियर!

खतरे में  रैना, रोहित-पुजारा का टेस्ट करियर!

सिडनी. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज 2-0 से गंवाने वाली भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली, मुरली विजय और रहाणे के अलावा टॉप ऑर्डर के बाकी बल्लेबाज बुरी तरह फ्लॉप रहे। इन तीनों के बाद अश्विन का सबसे अच्छा प्रदर्शन रहा और उन्होंने धवन, रोहित, पुजारा और रैना से भी बेहतर बल्लेबाजी की। धवन, रोहित शर्मा, पुजारा और रैना ने इस सीरीज में इतनी खराब बल्लेबाजी की है कि उनमें से कुछ के करियर पर बड़ा सवालिया निशान लग गया है।

28 महीने बाद मिला मौका, दोनों बार शून्य पर आउट
सिडनी में रैना को 28 महीने बाद टेस्ट टीम में मौका दिया गया, लेकिन यहां वो दोनो पारियों में खाता भी नहीं खोल सके। पहली पारी में रैना जहां पहली ही गेंद पर विकेट गंवा बैठे, वहीं दूसरी पारी में रैना तीसरी गेंद पर शून्य का शिकार बने। अगर इससे पहले के रिकॉर्ड को भी देखे, तो विदेश में रैना से बेहतर भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन रहा। पिछले 6 टेस्ट की 11 पारियों में रैना ने 7.72 की औसत से सिर्फ 85 रन बनाए हैं, जिसमें 5 बार वो खाता भी नहीं खोल सके।

रिकॉर्ड किंग हो गया फिस्स, छह पारियों में सिर्फ एक पचासा
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में रोहित शर्मा टीम इंडिया की सबसे बड़ी कमजोर कड़ी के रूप में देखे जा रहे हैं। सीरीज में पहले तो रोहित अच्छी शुरुआत के लिए तरसते दिखे और जब अच्छी शुरुआत मिली तो उसका फायदा उठाने में नाकाम रहे। सिडनी टेस्ट के पहली पारी में अर्धशतक लगाने वाले रोहित शर्मा दूसरी पारी में भी लय में दिखे। चौके और छक्के लगाकर रोहित ने उम्मीद तो जगाई लेकिन एक गलत शॉट ने उनकी पारी का अंत कर दिया। सीरीज में रोहित 3 टेस्ट मैच की 6 पारियों में 28.83 की औसत से 173 रन बनाए हैं। बता दें कि रोहित शर्मा के नाम वनडे में दो दोहरा शतक का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है।

उखड़ गई ‘दीवार’, एक साल से नहीं लगा सैकड़ा
भारतीय टीम के दूसरे राहुल द्रविड़ माने जा रहे चेतेश्वर पुजारा का प्रदर्शन दिनोंदिन गिरता जा रहा है। पिछले एक साल में खेले गए मैचों की बात की जाए तो वे एक भी सैकड़ा नहीं लगा सके हैं। उन्होंने 10 मैचों की 20 पारियों में 24.15 की औसत से 483 रन बनाए हैं। इस दौरान दो बार अर्धशतक ही लगा सके। ऑस्ट्रेलिया में पुजारा ने एडिलेड टेस्ट में 73 व 21, ब्रिस्बेन में 18 व 43 और मेलबर्न में 25 व 21 रन की पारी खेली। पुजारा ने अपना आखिरी सैकड़ा 18 दिसंबर, 2013 को जोहानिसबर्ग में साउथ अफ्रीका के खिलाफ (173 रन) लगाया था।

About The Author

Number of Entries : 3374

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.