किसी भी बैंक से खाते में जमा कर सकेंगे पैसा Reviewed by Momizat on . नई दिल्ली. अब आप किसी दूसरे बैंक से जल्द ही अपने खाते में पैसा जमा कर सकेंगे। ये व्यवस्था आरबीआई बना रही है। इसमें एटीएम से भी पैसा जमा करने का विकल्प रहेगा। इस नई दिल्ली. अब आप किसी दूसरे बैंक से जल्द ही अपने खाते में पैसा जमा कर सकेंगे। ये व्यवस्था आरबीआई बना रही है। इसमें एटीएम से भी पैसा जमा करने का विकल्प रहेगा। इस Rating: 0
You Are Here: Home » Business News » किसी भी बैंक से खाते में जमा कर सकेंगे पैसा

किसी भी बैंक से खाते में जमा कर सकेंगे पैसा

किसी भी बैंक से खाते में जमा कर सकेंगे पैसा

नई दिल्ली. अब आप किसी दूसरे बैंक से जल्द ही अपने खाते में पैसा जमा कर सकेंगे। ये व्यवस्था आरबीआई बना रही है। इसमें एटीएम से भी पैसा जमा करने का विकल्प रहेगा। इसे नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन संचालित करेगा।

ग्राहकों के लिए फिक्सड डिपॉजिट (एफडी) से पैसा निकालना अब पहले से आसान होगा। उपभोक्ता अब 15 लाख रुपए या इससे कम की एफडी से मैच्योरिटी से पहले पैसा निकाल सकेंगे और इसके लिए उन्हें कोई पेनल्टी नहीं देनी होगी। रिजर्व बैंक ने बैंकों को निर्देश जारी कर इसे अनिवार्य कर दिया है। इसके अलावा, रिजर्व बैंक ने एक समान राशि और एक समान मैच्योरिटी अवधि के लिए अलग-अगल ब्याज दरें ऑफर करने के संबंध में बैंकों को नियम बनाने को कहा है। रिजर्व बैंक की ओर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि बैंक 15 लाख रुपए या उससे कम की एफडी पर ग्राहकों को समय से पहले निकासी की सुविधा बिना पेनल्टी के उपलब्ध कराएं। रिजर्व बैंक ने बैंकों से कहा है कि वह ग्राहकों को एक करोड़ रुपए या इससे कम की एफडी पर एक समान राशि और एक समान मैच्योरिटी के लिए अलग-अलग ब्याज दरों की पेशकश कर सकते हैं। हालांकि, रिजर्व बैंक ने इस संबंध में बैंकों को नियम खुद बनाने की छूट दी है।

जनधन खातों को सफलतापूर्वक खोलने के बाद अब बैंक उस पर ओवरड्रॉफ्ट सुविधा देने की तैयारी में हैं। वित्त मंत्रालय के निर्देश के बाद बैंकों ने अब तेजी से ओवरड्रॉफ्ट (लोन सुविधा) देने के लिए कमर कस ली है। जनधन योजना के तहत बैंक खातों पर 5000 रुपए तक की ओवरड्रॉफ्ट सुविधा दी जाएगी। इस कवायद के जरिए जनधन योजना के तहत जुड़े खाताधारकों को फाइनेंशियल सेवाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित करने पर जोर है।

देश के सभी लोगों को बैंकिंग सेवाओं से जोड़ने के लिए अगस्त 2014 में केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री जनधन योजना लॉन्च की थी। इसके तहत यह प्रावधान किया गया है कि योजना के तहत खुले खाताधारकों को 5000 रुपए तक की ओवरड्रॉफ्ट सुविधा दी जाएगी। इसके लिए कम से कम खाताधारक का बैंक में छह महीने तक खाता खुला होना चाहिए। साथ ही, उसका लेन-देन बैंकों के लिए संतोषजनक भी होना जरूरी है।

वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, मार्च 2015 तक जनधन के तहत 14.71 करोड़ लोगों के खाते खोले जा चुके हैं। अब इन खातों को एक्टिव बनाए रखना प्रमुख चुनौती है। इसे देखते हुए इन खातों में नकद सब्सिडी की शुरुआत कर दी गई है, जिसे धीरे-धीरे बढ़ाया जा रहा है। साथ ही, खुले खातों में से 50-60 फीसदी खाते 6 महीने से ज्यादा पुराने हो चुके हैं। इसे देखते हुए इन खातों पर अब ओवरड्रॉफ्ट की सुविधा शुरू करने की जरूरत है। अधिकारी के अनुसार, खाते में जीरो बैंलेंस होने की संख्या भी कम हुई है। ताजा आंकड़ों के अनुसार, अभी तक कुल खुले खातों में 43 फीसदी खातों में 1500 करोड़ रुपए तक जमा हो चुके हैं। यानी 57 फीसदी खातों में जीरो बैंलेंस है। जबकि शुरुआत में 75 फीसदी तक खातों में जीरो बैलेंस था।

About The Author

Number of Entries : 3374

Leave a Comment

You must be logged in to post a comment.